मुरुम सिल्ली बांध

0

मुरुम सिल्ली बांध को माडाम सिल्ली बांध के नाम से भी जाना जाता है मुरुम सिल्ली बांध छत्तीसगढ़ राज्य के धमतरी जिला में स्थित है इस बांध का निर्माण सिलियारी नदी पर किया गया है यह एशिया का पहला सायफन सिस्टम बांध है इसका निर्माण १९१४ इसवी में शुरू हुआ था १९२३ में पूर्ण हुआ था यह एक रिजर्व बांध है गर्मी के मौसम में इसी बांध का पानी गंगरेल बांध में लाया जाता है केन्द्रीय प्रान्त के अभियंता आर एस राजेन्द्रनाथ सुर को ३जून १९२९ ई. में उनके अनुकरणीय कार्यो के लिए राय साहब के उपाधि के साथ ब्रिटेन के महामहिम द्वारा सम्मानित किया गया है इस बांध का निर्माण 1923 इंगलैण्ड की रहने वाली एक महिला इंजीनियर मैडल सिल्ली ने की थी। जिसके चलते इस बांध का नाम माडमसिल्ली पडा, इस बांध की एक और खास बात है की इसे बनाने के लिये ईट सीमेंट और लोहे का उपयोग नही किया गया है। 94 साल की उम्र बीत जाने के बाद भी इस बांध की मजबूती मे कोई फर्क नही आया है, और आज भी इनके सभी गेट चालू हालत मे है। बारिश के मौसम मे बांध लबालब होते ही ऑटोमेटिक सायफन गेट से पानी निकलना शुरू हो जाता है।




Leave A Reply

*